Friday, December 8, 2023
Home राष्ट्रीय Independence Day 2021: भारत के पड़ोसी देश कब मनाते हैं स्वतंत्रता दिवस?...

Independence Day 2021: भारत के पड़ोसी देश कब मनाते हैं स्वतंत्रता दिवस? जानें

[ad_1]

Independence Day 2021: भारत हर साल 15 अगस्त को अपनी आजादी का जश्न मनाता है. साल 1947 की यही वो स्वर्णिम तारीख है जब भारत को ब्रिटिश हुकूमत (British Rule) से आजादी मिली. आजादी का ये एहसास हर भारतीय के लिए बेहद सुखद तो था लेकिन दिल में विभाजन की टीस भी थी. आजादी से महज एक दिन पहले भारत का विभाजन कर पाकिस्तान बना दिया गया. यही वजह है कि भारत की आजादी से ठीक एक दिन पहले ही पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस पड़ता है. बता दें कि, भारत का विभाजन माउंटबेटन योजना के आधार पर निर्मित भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम 1947 के आधार पर किया गया. इस अधिनियम के अनुसार, 15 अगस्त 1947 को भारत और पाकिस्तान अधिराज्य नामक दो स्वायत्त्योपनिवेश (Autonomous colonization) बना दिए जाएंगें और उनको ब्रिटिश सरकार सत्ता सौंप देगी. ये तो हो गई भारत की आजादी की कहानी. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत के पड़ोसी देशों को आजादी कब मिली. आइए जानते हैं…

भूटान: भूटान अपना स्वतंत्रता दिवस 17 दिसंबर को मनाता है. भूटान को तिब्बत के कामरूप शासन ने कुछ वक्त तक अधीन रखा था लेकिन 17 दिसंबर 1907 को वांगचुक वंश ने भूटान की सत्ता फिर संभाल ली थी. तभी से भूटान इस दिन आजादी का जश्न मनाता है.

पाकिस्तान: भारत की आजादी से ठीक एक दिन पहले ही विभाजन के फलस्वरूप पाकिस्तान बना. इस मुल्क का स्वतंत्रता दिवस भारत से महज एक दिन पहले यानी कि 14 अगस्त को पड़ता है. पाकिस्तान 14 अगस्त 1947 को अस्तित्व में आया था.

चीन: ड्रैगन चीन हर साल 1 अक्टूबर को स्वतंत्रता दिवस मनाता है. साल 1949 में इसी तारीख को थियानमेन चौक पर सेंट्रल पीपुल्स गर्वनमेंट का गठन हुआ था. हालांकि स्थापना पहले हो चुकी थी लेकिन सरकार के गठन को ही ड्रैगन ने अपना स्वतंत्रता दिवस माना.

बांग्लादेश: बांग्लादेश हर साल 26 मार्च को स्वतंत्रता दिवस मनाता है. साल 1971 में शेख मुजीबुर रहमान ने आजादी की घोषणा कर दी थी. बता दें कि ये देश पाकिस्तान का हिस्सा था. लेकिन शेख मुजीबुर रहमान की घोषणा के बाद 9 महीने तक खूनी संघर्ष चला. इस लड़ाई में बांग्लादेश को भारत का सैन्य सहयोग प्राप्त हुआ था. अंततः 26 मार्च 1971 को बांग्लादेश को आजादी हासिल हुई.

म्यांमार: म्यांमार हर साल 4 जनवरी को स्वतंत्रता दिवस मनाता है. भारत के पड़ोसी देश म्यांमार को 4 जनवरी 1948 में जब आजादी मिली तब इसका नाम बर्मा हुआ करता था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज बर्मा के रास्ते ही भारत में घुसी थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

शातिर महिला ने दुकानदार को लगाया चूना, खबर पढ़ आप भी हो जाएंगे हैरान

लुधियाना। महानगर में एक दुकानदार को महिला द्वारा ठगने का मामला सामने आया है। मिली खबर के अनुसार महिला ने दुकानदार को दुबई की करंसी...

अयोध्या में राम मंदिर के लिए पुजारियों की ट्रेनिंग शुरु

अयोध्या। रामलला मंदिर के पुजारी पद के लिए चुने गए 20 उम्मीदवारों का प्रशिक्षण शुरू हो गया है। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के सदस्यों...

दक्षिण आंध्र प्रदेश से टकरा सकता है चक्रवात मिचौंग, अब तक आठ लोगों की मौत

चेन्नई। चक्रवात ‘मिचौंग’ आज (05-12-23) दक्षिण आंध्र प्रदेश और उत्तरी तमिलनाडु के तटों से टकरा सकता है। इस दौरान 90 से 110 किमी प्रति घंटे...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

फाइटर से सामने आई अनिल कपूर की झलक, ग्रुप कैप्टन बन खूब जचे अभिनेता

पिछले कई दिनों से फिल्म फाइटर सुर्खियों में है। सिद्धार्थ आनंद के निर्देशन में बन रही इस फिल्म से सबसे पहले ऋतिक रोशन का...

शातिर महिला ने दुकानदार को लगाया चूना, खबर पढ़ आप भी हो जाएंगे हैरान

लुधियाना। महानगर में एक दुकानदार को महिला द्वारा ठगने का मामला सामने आया है। मिली खबर के अनुसार महिला ने दुकानदार को दुबई की करंसी...

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में एंटीबायोटिक दवाओं के संवेदनशील पक्ष को विशेषज्ञों ने समझाया

गोब्ल्यू के माध्यम से एंटीबायोटिक के अति उपयोग से बचने की विशेषज्ञों ने दी सलाह देहरादून। श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में रोगाणुरोधी प्रतिरोध सप्ताह मनाया...

यूक्रेन- आल इज नॉट वेल

श्रुति व्यास आल इज नॉट वेल। दिसंबर जऱा भी खुशनुमा नहीं है। हवा में उदासी और निराशा घुली हुई है। सन् 2023, इतिहास बनने वाला...

मुख्यमंत्री ने आवास परिसर में किया ट्यूलिप की 17 प्रजातियों का रोपण

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सप्तनीक गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास परिसर में ट्यूलिप की 17 प्रजातियों के 4000 बल्ब के रोपण कार्यक्रम की...

बाल सुखाने के लिए आप भी करते हैं हेयर ड्रायर का इस्तेमाल? इन परेशानियों के हो जाएंगे शिकार

सर्दियों में बाल सुखाने या हेयर स्टाइल के लिए हेयर ड्रायर का काफी इस्तेमाल किया जाता है. भीगे बालों से होने वाले नुकसान से...

निवेश से खुलेंगे उत्तराखण्ड की समृद्वि के द्वार

देहरादून। उत्तराखंड वैश्विक निवेशक सम्मेलन के लिए पूरी तरह से तैयार है। जहां एक ओर मुख्यमंत्री सीएम धामी निवेश के लिए देश से लेकर...

आवास मंत्री डॉ. प्रेम चन्द अग्रवाल की मौजूदगी में उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के तहत 10 हजार 500 करोड़ रूपये के एमओयू

देहरादून। आवास मंत्री डॉ. प्रेम चन्द अग्रवाल ने विधान सभा स्थित सभागार कक्ष में आवास से संबंधित निवेशकों के साथ बैठक ली। कैबिनेट मंत्री ने...

सीएम धामी को सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास निदेशालय के निदेशक ब्रिगेडियर अमृत लाल ने लगाया फ्लैग

देहरादून। सशस्त्र सेना झंडा दिवस’ के अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास निदेशालय के निदेशक ब्रिगेडियर अमृत लाल (से.नि.) उप निदेशक कर्नल...

मंत्री गणेश जोशी ने स्कोडन लीडर अभिमन्यु राय के शहीद होने पर गहरी शौक संवेदनाएं की व्यक्त

देहरादून। सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने उत्तराखंड के लाल देहरादून जैंतनवाला निवासी स्कोडन लीडर अभिमन्यु राय के शहीद होने पर गहरा दुःख प्रकट करते...